Tech1Suraj

Advertise here

ads

Hot

Post Top Ad

LightBlog

Friday, April 19, 2019

SAMSUNG GALAXY A70

April 19, 2019 0
Samsung Galaxy A70 review



SAMSUNG GALAXY A70 SUMMARY

Samsung Galaxy A70 smartphone was launched in March 2019. The phone comes with a 6.70-inch touchscreen display with a resolution of 1080x2400 pixels.
Samsung Galaxy A70 is powered by a 1.7GHz octa-core Qualcomm Snapdragon 675 processor that features 2 cores clocked at 2GHz and 6 cores clocked at 1.7GHz. It comes with 6GB of RAM.
The Samsung Galaxy A70 runs Android 9 Pie and is powered by a 4,500mAh battery. The Samsung Galaxy A70 supports proprietary fast charging.
As far as the cameras are concerned, the Samsung Galaxy A70 on the rear packs a 32-megapixel primary camera with an f/1.7 aperture; a second 8-megapixel camera with an f/2.2 aperture and a third 5-megapixel camera with an f/2.2 aperture. It sports a 32-megapixel camera on the front for selfies, with an f/2.0 aperture.
The Samsung Galaxy A70 runs One UI based on Android 9 Pie and packs 128GB of inbuilt storage that can be expanded via microSD card (up to 512GB) with a dedicated slot. The Samsung Galaxy A70 is a dual-SIM (GSM and GSM) smartphone that accepts Nano-SIM and Nano-SIM cards.
Connectivity options on the Samsung Galaxy A70 include Wi-Fi 802.11 b/g/n, GPS, USB Type-C, 3G, and 4G (with support for Band 40 used by some LTE networks in India) with active 4G on both SIM cards. Sensors on the phone include accelerometer, ambient light sensor, proximity sensor, and fingerprint sensor. The Samsung Galaxy A70 supports face unlock.
The Samsung Galaxy A70 measures 164.30 x 76.70 x 7.90mm (height x width x thickness) . It was launched in Black, Blue, Coral, and White colours.

ABOUT SAMSUNG GALAXY A70



Read More

Thursday, April 18, 2019

10 tips for good health

April 18, 2019 0


 

Keep the following health tips in mind: 


Stay positive and have fun. A good mental attitude is important. Take it one step at a time. Small changes can add up to better fitness. Get your heart pumping. Don't forget to warm up with some easy exercises or mild stretching before you do any physical activity.

1. Copy your kitty: 

Learn to do stretching exercises when you wake up. It boosts circulation and digestion, and eases back pain.

2. Don’t skip breakfast: 

Studies show that eating a proper breakfast is one of the most positive things you can do if you are trying to lose weight. Breakfast skippers tend to gain weight. A balanced breakfast includes fresh fruit or fruit juice, a high-fibre breakfast cereal, low-fat milk or yoghurt, wholewheat toast, and a boiled egg.

3. Hydrate: 

Make sure to drink water throughout the day to stay hydrated. Not drinking enough H2O could spark hunger pangs, which may actually be thirst.

4. Chew slowly: 

How quickly we eat really does matter, research shows. In one study, fast eaters consumed around three ounces of food per minute, while slowpokes only ate about two ounces. Chewing slowly could mean less calories consumed, so take a chill pill when digging into the dinner plate.

5. Get enough sleep: 

Make sure to get seven to nine hours of sleep the night before Thanksgiving. Not getting enough sleep could amp up appetite levels the following day. 

6. Get spiritual:

A study conducted by the formidably sober and scientific Harvard University found that patients who were prayed for recovered quicker than those who weren’t, even if they weren’t aware of the prayer.

7. Bone up daily: 

Get your daily calcium by popping a tab, chugging milk or eating yoghurt. It’ll keep your bones strong. Remember that your bone density declines after the age of 30. You need at least 200 milligrams daily, which you should combine with magnesium, or it simply won’t be absorbed.

8. Load up on vitamin C:

We need at least 90 mg of vitamin C per day and the best way to get this is by eating at least five servings of fresh fruit and vegetables every day. So hit the oranges and guavas! ( Eye health: Introduction, Symtoms, Conditions & Treatment.)

9. Mindful living:

You've probably heard the old adage that life's too short to stuff a mushroom. But perhaps you should consider the opposite: that life's simply too short NOT to focus on the simple tasks. By slowing down and concentrating on basic things, you'll clear your mind of everything that worries you.

10. Laugh and cry:

Having a good sob is reputed to be good for you. So is laughter, which has been shown to help heal bodies, as well as broken hearts. Studies in Japan indicate that laughter boosts the immune system and helps the body shake off allergic reactions.

Read More

Tuesday, April 16, 2019

Real Me 3 (रियलमी 3)

April 16, 2019 0

Real Me 3 review

स्पेसिफिकेशन:

6.20 इंच एचडी प्लस डिस्प्ले, 3/4जीबी रैम, 32/64जीबी स्टोरेज (एक्सपेंडेबल 256 जीबी), मीडियाटेक हीलियो पी70 प्रोसेसर, 13+2 एमपी रियर व 13 एमपी फ्रंट कैमरा, एंड्रॉयड 9.0, बैटरी 4230 एमएएच,  कीमत 8999 रुपये (3जीबी रैम) 3डी ग्रेडिएंट यूनीबॉडी डिजाइन के साथ आने वाला यह फोन लुकवाइज अच्छा है। इसमें 6.2 इंच का एचडी प्लस डिस्प्ले है, जिस पर कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास दिया गया है। यह वाटरड्रॉप नॉच के साथ आता है। कलस विविड हैं और ब्राइटनेट भी अच्छी है। इसमें दो नैनो सिम कार्ड और माइक्रोएसडी कार्ड के लिए जगह दी गई है। फोन कलरओएस 6.0 से लैस है। यह कस्टम स्किन एंड्रॉयड 9.0 पाई पर आधारित है। बैक पर फिंगरप्रिंट - स्कैनर है, जो तेजी से कार्य करता है। साथ में फेस अनलॉक भी है। अगर परफॉर्मेंस की बात करें, तो इसमें मीडियाटेक हीलियो पी70 प्रोसेसर है । इस्तेमाल करने में फोन का एक्सपीरियंस अच्छा रहता है। फोन
मल्टीटास्किंग को भी आसानी से हैंडल करता है। गेमिंग के दौरान परेशानी नहीं होती है। यह ज्यादा गर्म नहीं होता है। इसमें 13 व 2 एमपी के रियर कैमरे हैं, जो नाइटस्कैप और क्रोमा बूस्ट शूटिंग मोड के साथ आता है। कम रोशनी की स्थिति में नेटस्कैप नोड का इस्तेमाल कर बेहतर तस्वीरें ली जा सकती हैं। वहीं, क्रोमा बूस्ट को व्यूफाइंडर से एक्टिव किया जा सकता है। यह इमेज के डायनेमिक रेंज को बेहतर करता है। रियल कैमरे से रोशनी में तस्वीरें बेहतर आती हैं। फ्रंट में एफ/2.0 अपर्चर वाला 13 एमपी का कैमरा है। यह अच्छी रोशनी में डिटेल के साथ सेल्फी कैप्चर करता है।इसमें आई ब्यूटीफिकेशन मोड भी है। साथ ही, रियर और फ्रंट दोनों  कैमरे से पोर्ट्रेट मोड में तस्वीरें ली जा सकती हैं। लेकिन एज डिटेक्शन बहुत अच्छा नहीं है। फोन की बैटरी 4230 एमएएच की है, जो आम इस्तेमाल में एक दिन आसानी से चल जाती है। इसमें फास्ट चार्जिंग सपोर्ट नहीं है, लेकिन आपको 10 वॉट का चार्जर मिलता है।
Read More

मोबाइल की है लत, तो ऐसे करें कंट्रोल

April 16, 2019 0

इन टूल्स की मदद से मोबाइल की लत को कंट्रोल करना होगा आसान 


मोबाइल की है लत, तो ऐसे करें कंट्रोल


आजकल ऐसे लोगों की कमी नहीं है, जिन्हें एक तरह से मोबाइल की लत लग चुकी है। मोबाइल पर कोई मैसेज या कॉल आए या न आए, लेकिन वह हर दूसरे मिनट में मोबाइल फोन को खोल कर जरूर देखते हैं। अगर आपको भी लगता है कि बहुत ज्यादा स्मार्टफोन का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो इन टूल्स का इस्तेमाल करें। ये स्मार्टफोन के इस्तेमाल को कंट्रोल करने में आपकी मदद करंगे..

म्यूट स्क्रीन टाइम ट्रैकर : 

अगर आप बिना वजह बहुत ज्यादा मोबाइल का इस्तेमाल करते हैं, तो यह एप्लिकेशन मोबाइल के इस्तेमाल को
कंट्रोल करने में आपकी मदद करेगा। यह यूजर की मोटिवेट करता है कि फोन का कम से कम इस्तेमाल करें। इसके लिए इसमें स्क्रीन टाइम फीचर है, जिसकी मदद से मोबाइल पर बिताए जाने वाले अपने समय को कंट्रोल कर सकते हैं।आप घर: पर हों या फिर ऑफिस में, यह आपके द्वारा फोन के इस्तेमाल को हमेशा ट्रैक करता है। इससे फोन के लगातार इस्तेमाल से ब्रेक लेने में सहूलियत होगी। साथ ही, डेली और वीकली डाटा के जरिए देख सकते हैं कि फोन पर आप कितना समय बिताते हैं। यह एप आइओएस यूजर्स के लिए है।


मोमेंट : 


मोमेंट यानी लेस फोन, मोर रियल लाइफ यानी इस एप्लिकेशन का उद्देश्य है कि यूजर फोन की बजाय रियल लाइफ को ज्यादा एंज्वॉय करे। अगर आपको फोन की लत है, तो आप न सिर्फ खुद की, बल्कि फैमिली लाइफ
को भी कहीं न कहीं नुकसान पहुंचाते हैं। दिन में कितनी देर स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं, यह उसे ऑटेमैटिकली ट्रैक करता रहता है। अगर तय समय से ज्यादा देर फोन का इस्तेमाल करते हैं, तो यह आपको
एलर्ट करता है। साथ ही, यह डिवाइस के इस्तेमाल को सीमित करने के लिए भी फोर्स करता है। इसकी मदद से,अपनी फैमिली के स्क्रीन टाइम को भी मैनेज कर सकते हैं। इसमें फोन की लत को छोड़ने के लिए हर दिन छोटे छोटे एक्सरसाइज भी दिए जाते हैं, जो उपयोगी साबित हो सकते हैं। कंपनी का दावा है कि दुनियाभर में उसके 70 लाख से अधिक यूजर्स हैं। इसे एंड्रॉयड और आईओएस डिवाइस के लिए डाउनलोड किया जा सकता है।


फॉरेस्ट : 

अगर आपको फोन के अलावा, इंटरनेट सफर की भी लत है, तो फिर इस ऐप्लिकेशन का इस्तेमाल करना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। इसमें फोन एडिक्शन को दूर करने के लिए अनोखा तरीका अपना गया है। इंस्टॉल करने के बाद जैसे ही आप एप को ओपन करते हैं, इसमें स्क्रीन पर एक वर्जुअल प्लांट उगना शुरू होता है। यह प्लांट धीरे-धीरे बढ़ता है, लेकिन जैसे ही आप एप से हटकर इंटरनेट ब्राउज़र या फिर कोई दूसरा ऐप्स खोलने की कोशिश करेंगे, यह आपको एलर्ट करता है कि आपके इस प्रयास से आपका र्जुअल प्लांट
सूख या फिर मर सकता है। इस तरह यह यूजर को फोन से दूरी बनाए रखने के लिए प्रेरित करता है। यह एंड्रॉयड, आईओएस के साथ क्रोम ब्राउजर को भी सपोर्ट करता है।
Read More

एपल लाया नेटफ्लिक्स की तरह वीडियो स्ट्रीमिंग सर्विस

April 16, 2019 0

एपल लाया नेटफ्लिक्स तरहवीडियो स्ट्रीमिंग सर्विस


टेक्नोलॉजी कंपनी एप्पल ने तीन नए सब्सक्रिप्शन सर्विस को लॉन्च किया है। इसमें नेटफ्लिक्स को टक्कर देने के लिए एपल टीवी प्लस के साथ ही कंपनी ने मैगजीन और न्यूजपेपर्स के लिए सब्सक्रिप्शन प्लान पेश किया है। इसके अलावा, मोबाइल और दूसरे डिवाइस के लिए गेम सब्सक्रिप्शन एपल आकेड को भी पेश किया।

एपल टीवी प्लस :


एपल की ऑनलाइन वीडियो स्ट्रीमिंग सर्विस एपल टीवी प्लस एप जल्द ही सब्सक्रिप्शन के लिए उपलब्ध होने की उम्मीद है। इसके जरिए यूजर अपने पसंदीदा शो ये स्पोर्ट्स इवेंट्स को एक्सेस कर सकेंगे। इसके अलावा, एपल टीवी चैनल फीचर को भी इस एप के साथ जोड़ा जाएगा। एपल टीवी प्लस यूजर्स जब किसी चैनल को सब्सक्राइब करेंगे, तो वे उस चैनल के किसी भी शो को अपने ऐप के जरिए एक्सेस कर सकेंगे। इसमें यूजर एपल द्वारा प्रोड्यूस किए हुए ओरिजिनल वीडियो कंटेंट को भी एक्सेस कर सकेंगे। इसके लिए ऐपल ने 34 अन्य टीवी एवं मूवी प्रोडक्शन के साथ साझेदारी की है। इस कंपनी के सभी डिवाइस, जैसे-आईफोन, आईपैड और एप्पल टीवी सेट-टॉप बॉक्स के अलावा मैक कंप्यूटर पर भी एक्सेस किया जा सकेगा।

एपल न्यूज़ प्लस : 

कंपनी ने एप्पल न्यूज प्लस एप को भी लॉन्च किया गया, जिसके लिए यूजर से मंथली भुगतान करना होगा। इसमें यूजर्स को नए और पुराने मैगजीन इश्यू का एक्सेस मिलेगा। इसमें कंपनी ने कुछ मैगजीन को भी शोकेस किया, जिसमें वायर्ड, पॉपुलर साइंस, नेशनल ज्योग्राफिक और एसेंस शामिल हैं। साथ ही, यूजर्स को लॉस एंजिल्स टाइम्स, वॉल स्ट्रीट जर्नल आदि के भी कंटेंट मिलेंगे। यूजर्स को 300 से ज्यादा मैगजीन का सब्सक्रिप्शन दिया जाएगा।

एपल कार्ड : 

एपल ने गोल्डमैन सैक्स और मास्टरकार्ड के साथ मिलकर क्रेडिट कार्ड लॉन्च किया है। यह टाइटेनियम से बना है। कार्ड यूजर्स अपने आईफोन वॉलेट एप के जरिए यह भी पता लगा सकेंगे कि कितनी राशि  खर्च की गई है और कितना भुगतान करना है। यह आपके खर्च की गई राशि का पूरा ब्यौरा देगा, जिसमें आपको कैटेगरी के हिसाब से खर्च की जानकारी मिलेगी।

एपल आर्केड

कंपनी ने वीडियो गेमिंग बंडल एपल आर्केड को भी पेश किया है। इसके लिए यूजर्स को केवल एक सब्सक्रिप्शन के जरिए 100 से ज्यादा वीडियो गेम्स का एक्सेस मिलेगा। यूजर्स इन सभी गेम का आनंद एपल के डिवाइस पर ले सकेंगे। इसमें लगातार नए गेम जोड़े जाएंगे। खास बात यह है कि यूजर्स वीडियो गेम्स का आनंद ऑनलाइन भी ले सकेंगे। इसके लिए यूजर्स को अपने एपल आर्केड में गेम को डाउनलोड करना होगा। इसमें कोनामी कार्टून नेटवर्क, सेगा और लिगो जैसी कंपनियों के नए गेम्स उपलब्ध होंगे।
Read More

Sunday, April 14, 2019

रेडमी नोट 7 प्रो

April 14, 2019 4

https://tech1suraj.blogspot.com/2019/04/7.html


यह रेडमी सीरीज का बजट स्मार्टफोन है। इसकी बिल्ट क़्वालिटी मजूबत है और देखने में प्रीमियम लुक देता है। इसमें 6.3 इंच का फुल एचडी प्लस डिस्प्ले है, जिसका ऑस्पेक्ट रेशियो 19.5:9 है। फोन के फ्रंट और बैक पर गोरिल्ला ग्लास 5 का प्रोटेक्शन है। व्यूइंग एंगल्स अच्छे हैं और स्क्रीन पर कंटेंट शार्प नजर आते हैं। हालांकि बैक पर ग्लास की वजह से अंगुलियों के निशान आसानी से पड़ जाते हैं। इसके रियर कैमरे उभरे हुए हैं, इसलिए कवर का इस्तेमाल करना बेहतर रहेगा। फिंगरप्रिंट सेंसर रियर पर है, जो कि फास्ट है। फेस अनलॉक भी तेजी से काम करता है। फोन के दो वैरिएंट हैं- 4 जीबी रैम व 64 जीबी स्टोरेज और 6 जीबी रैम व 128 जीबी स्टोरेज स्टोरेज को माइक्रोएसडी कार्ड के जरिए 256 जीबी तक बढ़ाया जा सकता है। इसमें ऑक्टा-कोर Qualcom स्नैपड्रैगन 675 प्रोसेसर है। फोन का परफॉर्मेंस आमतौर पर अच्छा रहता है। मल्टीटास्किंग भी आसान है। पबजी और Alphalt 9 जैसे गेम्स के दौरान भी बेहतर गेमिंग एक्सपीरियंस मिलता है। हालांकि लगातार गेमिंग के दौरान फोन थोड़ा गर्म जरूर हो जाता है। कॉल Quality अच्छी है। फोन के रियर पर 48 मेगापिक्सल का कैमरा इसकी खासियत है। इसके साथ 5 मेगापिक्सल का डेप्थ कैमरा है। कैमरे में एआइ पोर्टेट मोड के साथ स्लो-मो वीडियो
रिकॉर्डिंग, 4के वीडियो कैप्चर जैसे फीचर्स भी मिलेंगे। फ्रंट में 13 मेगापिक्सल का कैमरा है। यह भी एआई पोर्ट्रेट मोड, एआई ब्यूटीफिकेशन आदि से लैस है। रियर कैमरे का परफॉर्मेंस शानदार रहता है।यह डिटेल के साथ की तस्वीरें कैप्चर करता है। डिफॉल्ट में तस्वीरें से 12 मेगापिक्सल Resolution पर कैप्चर होती हैं। आपको मैनुअली 48 मेगापिक्सल मोड को चुनना होगा। कम रोशनी में ली गई तस्वीरें भी निराश नहीं करती है। पोटेंट शॉट भी
बेहतर आते हैं। फ्रंट कैमरे से ली गई सेल्फी अच्छी आती है। हालांकि 4 के रिकॉर्डिंग में ईआइएस नहीं है। फोन में 4000 एमएएच की बैटरी है, जो एक से डेढ़ दिन आसानी से चल जाती है। यह Qualcom की Quick
चार्ज 4.0 टेक्नोलॉजी को सपोर्ट करता है। इसकी कीमत 13999 रुपये है। इस रेंज में यह दमदार फोन है।
Read More

गूगल मैप्स पर ऐसे जोड़ें मल्टिपल स्टॉप

April 14, 2019 1

how to set multiple stops in google maps
Tech1Suraj

अगर आपको कहीं जाना है और रास्ता मालूम नहीं है, तो सबसे पहले गूगल मैप्स ओपन करते हैं। आमतौर पर इसका इस्तेमाल लोग रास्ता जानने के लिए करते हैं, लेकिन इसमें और भी कई उपयोगी फीचर्स हैं। आप देख सकते हैं कि एक प्वाइंट से दूसरे प्वाइंट के बीच कितनी दूरी है और पहुंचने में कितना समय लग सकता है। साथ ही, इसमें लाइव ट्रैफिक देखने का ऑप्शन भी है। इसमें एक और बेहद उपयोगी फीचर यह है कि अगर आपको डेस्टिनेशन पर पहुंचने से पहले अलग-अलग स्पॉट पर रुकना है, तो यह भी आसानी से किया जा सकता है यानी
आप गूगल मैप्स पर मल्टीपल स्टॉप को एक साथ जोड़ सकते हैं। इससे एक प्वाइंट से दूसरे प्वाइंट तक पहुंचने
में कितना समय लग सकता है, उसे जानना आसान हो जाएगा। साथ ही, हर बार अलग-अलग प्वाइंट के लिए मैप्स को सेट करने से भी बच जाएंगे।एंड्रॉयड और आईओएस यूजर इस तरह से गूगल मैप्स पर मल्टीपल
लोकेशन को सेट कर सकते हैं :
  • इसके लिए सबसे पहले गूगल मैप्स एप को ओपन करना होगा, फिर फाइनल डेस्टिनेशन को सर्च कर लें।  
  • फाइनल डेस्टिनेशन सर्च कर लेते हैं, तो फिर डायरेक्शन बटन पर टैप करें, जो स्क्रीन पर नीचे की तरफ दिखाई देगा। 
  • इसके बाद फिर दायीं तरफ ऊपर की और तीन डॉट वाला 'मोर' का ऑप्शन मिलेगा, उस पर जब टैप करेंगे, तो एड स्टॉप का ऑप्शन दिखेगा। इसमें आप सिंगल ट्रिप के दौरान 9 स्टॉप तक जोड़ सकते हैं। स्टॉप जोड़ने के बाद फिर डन के बटन पर क्लिक कर दें।
  • अगर आपको लगता है कि स्टॉप की पोजीशन को बदलना है, तो यह भी संभव है। फिर इसके तीन डॉट वाले मैन्यू में जाने के बाद एड बटन को ड्रैग कर ऊपर-नीचे कर सकते हैं। 
  • आपको बता दें कि यह फीचर पब्लिक ट्रांजिट और राइड्स ऐप्स मोड्स के साथ कार्य नहीं करता है। इसका इस्तेमाल ड्राइविंग और साइकलिंग मोड्स के साथ ही किया जा सकता है। यह फीचर वेब वर्जन को भी सपोर्ट करता है।

इसके अलावा, गूगल मैप्स में एंड्रॉयड यूजर के लिए एक और नया फीचर जोड़ा गया है। इस फीचर की मदद से यूजर ट्रैफिक स्लोडाउन या फिर ट्रैफिक जाम को रिपोर्ट कर पाएंगे। इसके साथ यूजर एक्सीडेंट को भी इस फीचर के जरिए रिपोर्ट कर पाएंगे। फिलहाल इस फीचर को आइओएस यूजर के लिए जारी नहीं किया गया है।
Read More